bhagwat geeta quotes in hindi

101+ श्रीमद भगवदतगीता के प्रेरणादायक सुविचार (2020) | Inspirational Quotes |

Bhagavad Gita Quotes

गीता में स्पष्ट शब्दों में लिखा है
निराश न होना कमजोर तेरा वक़्त है तू नहीं…!!!

💚💙💚💙

जो व्यक्ति कर्म में अकर्म और अकर्म में कर्म देखता है,
वह मनुष्यों के बुद्धिमान है और सभी प्रकार के कर्मों में लगा रहकर भी
वह दिव्या स्तिथि को प्राप्त होता है…!!

💚💙💚💙

जहां दया वहां धर्म है,
जहां लोभ वहां पाप,
जहां क्रोध वहां नाश है…
जहां क्षमा में भगवान् वास…!!

💚💙💚💙

रणभूमि कुरुक्षेत्र में भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन से कहा
की यह सृष्टि ईश्वरीय नियमों के अनुसार चल रही है
और इसके चक्र को रोकने में मनुष्य असमर्थ है…!!!

💚💙💚💙

तेरे गिरने में तेरी हार नहीं…
तू आदमी है अवतार नहीं…
गिर, उठ, चल, फिर भाग…
क्यूंकि…
जीत संक्षिप्त है
इसका कोई सार नहीं…!!!

💚💙💚💙

जो दुखों के प्राप्त होने पर भी विचलित नहीं होते है,
सुखों के प्राप्त होने पर भी अति उत्साहित नहीं होते है
तथा जिनमे सर्वथा राग, भय और क्रोध का अभाव हो गया है,
वैसे मुनि स्तिथप्रज्ञ कहलाते है..!!!

💚💙💚💙

में बहुत, वर्तमान और भविष्य के सभी प्राणियों को जानता हूँ,
किन्तु
वास्तविकता में मुझे कोई नहीं जानता…!!!

💚💙💚💙

यह जरूर पढ़िए – 201+ गौतम बुद्ध के महान सुविचार (2020)

जीवन में ऊँचा उठने के लिए पंखो की जरुरत केवल पक्षियों को
ही पड़ती है,
मनुष्य तो जितना विनम्रता से झुकता है,
उतना ही ऊपर उठता है…!!

💚💙💚💙

One thought on “101+ श्रीमद भगवदतगीता के प्रेरणादायक सुविचार (2020) | Inspirational Quotes |

Comments are closed.